10

पेड़ पौधे हमेशा हमारे प्राकृतिक जीवन का एक अभिन्न हिस्सा रहे हैं और हमें हमेशा से यही बताया जाता रहा है कि पेड़ में छाया और फल देते हैं और हम इंसानों तथा जानवरों की भी कई सारे जरूरत है की पूर्ति भी यह पेड़ पौधे ही करते हैं। इनके बिना जीवन की कल्पना तकरीबन असंभव है क्योंकि ऑक्सीजन का प्राकृतिक स्रोत भी पेड़-पौधे ही हैं। पिछले काफी समय से इस धरती पर पर्यावरण में तेजी से बदलाव देखा जा रहा है जिसकी वजह है पेड़ों की कटाई। ऐसे में हर तरफ लोग पर्यावरण और पेड़-पौधों के संरक्षण का प्रयास करते रहते हैं।

खैर यह तो एक सामान्य सी जानकारी है कि पेड़ हमें छाया तथा फल देते है मगर क्या आपने कभी सुना है कि पेड़ हमें पानी भी देता है। नहीं सुना होगा तो आज हम आपको बता दें कि हम अज एक ऐसे पेड़ के बारे में बात करने जा रहे हैं इसमें एक जरा सा कट लगने पर इसमें से पानी की तेज धार निकलने लगती है, जिसे पीकर आप अपनी प्यास भी बुझा सकते हैं। इस पेड़ को Terminalia Tomentosa कहते हैं।

इस खास पेड़ को अलग-अलग स्थानीय भाषा में आसन, असना, साज आदि नामों से भी जाना जाता है। चूँकि इस पेड़ की छाल बेहद मोटी होती है इस वजह से इसे किन्ही जगहों पर मगरमच्छ की पीठ वाले पेड़ के नाम से भी जाना जाता है। अभी हाल ही में पूर्व आईएफएस दिग्विजय सिंह भाटी ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्होंने कैप्शन देते हुए लिखा है ‘यह पेड़ मुश्किल हालात में आपकी प्यास बुझा सकता है।’

उन्होंने इस वीडियो को शेयर करते हुए दिखाया भी हैं कि कैसे इस पेड़ के तने पर वह एक छोटा सा कट लगाते हैं जिसमें तेज पानी की धार निकलने लगती है और उनके साथ मौजूद सभी लोग बारी-बारी से उस पानी को पीकर अपनी प्यास भी बुझाते हैं। बेशक यह जो भी है वह एक कुदरत का करिश्मा है। यह एक कमाल ही नहीं बल्कि जब बेहद दुर्लभ भी है। आपको बता दें कि यह वृक्ष दक्षिण भारत में पाए जाते हैं, ज्यादातर यह तमिलनाडु के जंगलों में ही पाए जाते हैं।

ऐसा बताया जाता है कि फॉरेस्टर और बायोलार्जेस्ट भी अब तक इस पेड़ के अंदर से पानी निकलने की वजह का पता नहीं लगा पाए हैं। पेड़ के तने पर यदि एक बार कट लगाया जाए तो उससे तकरीबन 1 लीटर तक पानी निकलता है जिससे कई बार स्थानीय आदिवासी मुश्किल के वक्त में अपनी प्यास बुझाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here