10

एक माह पहले जहां प्याज 15 से 20 रुपये किलो बिक रही थी, वहीं अब प्याज की कीमत 35 से 40 रुपये किलोग्राम तक पहुंच गई है। प्याज के बढ़ते दाम फलों के राजा आम के दामों को टक्कर देने को बेताब हैं, क्योंकि इन दिनों दशहरी आम आए हुए हैं तथा ये आम कहीं पर 30 रुपये किलो तो कहीं पर 35 से 40 रुपये किलो के हिसाब से बिक रहे हैं। इस प्रकार प्याज के दाम व आम के दाम लगभग बराबर ही हैं।

ऐसे में प्याज खाना भी अब आम आदमी के बस में नहीं होता जा रहा। प्याज के साथ-साथ सलाद के रूप में प्रयोग की जाने वाली सब्जियों के दाम भी अचानक बढ़ गए हैं। खीरा व टमाटर के दामों में काफी उछाल देखा जा रहा है।

हालांकि थोक में प्याज का दाम अभी कुछ कम है, मगर प्याज के दामों के बढ़ने की शुरूआत को देखते हुए खुदरा विक्रेताओं ने इनका स्टाक करना भी शुरू कर दिया है। जिसके कारण प्याज का दाम अब लगातार बढ़ता जा रहा है। प्याज के दाम बढ़ने के कारण रसोई का स्वाद भी कम होता जा रहा है। प्याज के साथ-साथ अन्य सब्जियों खासकर सलाद के रूप में इस्तेमाल की जाने वाली सब्जियों के दाम भी अब आसमान छूने लग गए हैं।

एक माह पूर्व तक खीरे व टमाटर का दाम दस रुपये किलो था, जो अब खीरे का दाम 40 रुपये किलो तथा टमाटर का दाम 20 से 25 रुपये किलो तक हो गया है। सलाद में इस्तेमाल किए जाने वाली सब्जियों के दाम बढ़ने की वजह से अब लोग भी इनको कम ही इस्तेमाल करने लगे हैं। खीरे में चाइनीज खीरे का दाम तो अब 60 रुपये किलो तक पहुंच गया है, जो एक माह पूर्व 15 रुपये किलो आसानी से मिल जाता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here