10

हर कोई अच्छी कमाई कर एक बेहतर जिंदगी जीना चाहता है। इसके लिए ना जाने वह कितना रिस्क भी उठा लेते हैं। आज हम एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बात करेंगे जिन्होंने एक छोटी सी शुरुआत की और आज बड़ी कामयाबी प्राप्त की है। दरअसल आज हम पुणे-सोलापुर हाइवे पर स्थित गांव उरलीकांचन के रहने वाले 58 वर्षीय भाऊसाहेब कांचन (Bhausaheb Kanchan) के बारे में बात करेंगे।

32 फीट की ऊंचाई वाले छत पर अंगूर का बगीचा

भाऊसाहेब अपने घर के 32 फीट ऊपर छत पर अंगूर का बगीचा बनाए है। भाऊसाहेब कहते हैं कि उनके पास कुल साढ़े तीन एकड़ जमीन है, जिस पर वह गन्ने की खेती करते हैं। कुछ साल पहले उन्होंने बिना घर से बाहर गए कमाई करने का फैसला किए और ऐसे में भाऊसाहेब स्टडी टूर के लिए यूरोप चले गए।

कृषि विभाग 48 किसानों को विदेश जाने का देता है मौका

आपको बता दें कि हर पंच साल में कृषि विभाग 48 किसानों को विदेश जाने का मौका देता है और उनका आधा खर्चा केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है। इस स्टडी टूर पर भाऊसाहेब ने यह जाना कि यूरोप के जर्मनी, स्विट्जरलैंड और नीदरलैंड में आधुनिक खेती कैसी की जाती है। भाऊसाहेब के अनुसार इस टूर का प्रति व्यक्ति का खर्चा डेढ़ लाख रुपये है, जिसमे 75 हजार भारत सरकार देती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here