11

देशभर में आम जनता महंगाई और बेरोजगारी की दोहरी मार से लगातार जूझ रही है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों से लेकर साग-सब्जी तक के दाम आसमान छू रहे है, ऐसे में आम आदमी के हर घर का बजट बिगड़ गया है। हालांकि पिछले कुछ महीनों से वाहन ईंधन में मिली थोड़ी राहत के बाद अब खाद्द तेल के भाव में भी जनता को मामूली सी राहत दी गई है।

जानिए सरसों तेल में कितने रुपए की आई कमी

आपको बता दें कि सरकार की तरफ से आम जनता को थोड़ी राहत देते हुए सरसों के तेल (Mustard Oil price) में 17-22 रुपए की कटौती की गई है। जिसके बाद मौजूदा समय में बाजारों में 1 लीटर सरसों तेल की कीमत 130 रुपये से लेकर 132 रुपये तक है। इसमें पी-मार्का, म्यूर, पतंजलि व अन्य तेल शामिल है। आपको बता दें कि इससे पहले यही तेल बाजारों में 200-225 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था। वहीं, रिफाइंड तेल की कीमत में भी कमी हुई थी, जिसके बाद 150 रुपये प्रति लीटर बेचा जा रहा है।

190-200 रुपए की कीमत पर मिल रहे तेल के दाम में आई गिरावट

दरअसल सरसों का तेल (Mustard Oil price) खाने में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला तेल है, साथ ही यह सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है। इसके दाम में आई कमी से आम लोगों को बड़ी राहत मिली है। सरसों का तेल कुछ दिनों पहले 190-220 रुपये लीटर बिक रहा था। उसकी कीमतों में अब भारी गिरावट के साथ यह बदलाव हुआ है।

इन शहरों में दुकानदारों से रहे सावधान

आपको बता दें कि, सरसों तेल की कीमत (Mustard Oil price) 130 से लेकर 132 रुपये के करीब बिक रहा है। लेकिन अभी भी धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, जामताड़ा और झारखंड के अन्य जिलों में कुछ ऐसे दुकानदार है, जिनके पास दाम कम होने से पहले के प्रिंट रेट का कोटा उपलब्ध है। जिसका फायदा उठाकर वह उसी दाम पर तेल बेचकर लोगों को चूना लगाने की कोशिश में लगे हैं। ऐसे ठग दुकानदारों से सावधान रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here