6

पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर को इंडियन प्रीमियर लीग-2022 में खेलने का मौका नहीं मिला. मुंबई इंडियंस ने अर्जुन (Arjun Tendulkar) को 30 लाख रुपये में आईपीएल 2022 लीग की मेगा ऑक्शन में खरीदा था. टीम में इस सीज़न काफी बदलाव देखने को मिले लेकिन अर्जुन तेंदुलकर का डेब्यू करने का सपना पूरा नहीं हुआ. हाल ही में वर्ल्डकप विजेता कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) ने अर्जुन तेंदुलकर पर एक बड़ा बयान दिया है.

कपिल देव ने दिया ये बड़ा बयान

कपिल देव (Kapil Dev) का मानना है कि अर्जुन तेंदुलकर हमेशा अपने पिता की वजह से अतिरिक्त दबाव महसूस करेंगे. क्रिकेट के भगवान के बेटे होने के कारण उनसे काफी उम्मीदें अभी से जुड़ चुकी है. पर  उन्हें अपना ही खेल खेलना होगा. कपिल (Kapil Dev) ने कहा, ‘सभी लोग उनके बारे में क्यों बात कर रहे है, क्योंकि वे सचिन के बेटे हैं. उनको अपनी क्रिकेट खेलने दीजिए और सचिन के साथ तुलना मत कीजिए. तेंदुलकर का नाम रखने के फायदे भी हैं और नुकसान भी. डॉन ब्रैडमैन के बेटे ने अपना नाम बदल लिया, क्योंकि वह उस तरह के दबाव को नहीं झेल सके थे, क्योंकि सभी को उम्मीद थी कि वह अपने पिता की तरह निकलेंगे.’

पिता जैसे 50% बन जाओ तो सब बेस्ट होगा

कपिल देव ने (Kapil Dev) अपने बयान में आगे कहा, ‘अर्जुन पर दबाव न डालें. वो एक युवा खिलाड़ी हैं. जब सचिन तेंदुलकर जैसा महान खिलाड़ी उनका पिता है तो उन्हें हम कुछ बोलने वाले कौन होते हैं ? मैं अर्जुन को केवल एक ही चीज कहना चाहूंगा कि जाओ और अपने गेम का लुत्फ उठाओ. कुछ भी साबित करने की जरूरत नहीं है. अगर आप अपने पिता की तरह 50 प्रतिशत भी बन सकते हैं तो इससे अच्छा कुछ नहीं हो सकता. जब तेंदुलकर का नाम आता है तो हमारी उम्मीदें बढ़ जाती हैं, क्योंकि सचिन काफी महान प्लेयर थे.’

Arjun Tendulkar का क्रिकेट करियर

हम बता दें की अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) अपनी घरेलू टीम मुबई के लिए मुश्ताक अली ट्रॉफी में दो टी20 मैच खेल चुके हैं. मैच में एवरेज प्रदर्शन के चलते रणजी ट्राफी के नॉकआउट मैचों में अर्जुन तेंदुलकर को जगह नहीं मिली. अब उम्मीद यही लगाई जा सकती है की डोमेस्टिक क्रिकेट में अगर अर्जुन अच्छी क्रिकेट खेलते है तो अगले साल आईपीएल में उनका डेब्यू देखने को मिल सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here