आमतौर पर लोगों के लिए बाहरी समस्याओं की तुलना में घरेलू समस्याओं से निपटना काफी मुश्किल होता है। आज हम आपको भारतीय टीम के उस होनहार खिलाड़ी के बारे में बता रहे हैं जिसका करियर घरेलू झगड़े के कारण बर्बाद हो गया।
इस खिलाड़ी ने दुनिया के सामने अपना लोहा मनवा दिया था लेकिन घर के सदस्यों के सामने ये खिलाड़ी असहाय हो गया। ये खिलाड़ी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलने वाले गेंदबाज मनप्रीत सिंह गोनी हैं।
आईपीएल के पहले सीजन में मनप्रीत सिंह गोनी चेन्नई सुपर किंग्स में शामिल थे, जिसके बाद उन्हें आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलने का मौका भी मिला।
मनप्रीत सिंह गोनी ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन की बदौलत टीम इंडिया में जगह भी बना ली थी लेकिन 2013 में उनको अपने ही परिवार से एक बड़ा झटका मिल गया। 2013 में उनकी पत्नी उसने अलग होने वाली थीं।
मनप्रीत सिंह गोनी और उनकी पत्नी के बीच तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी भी दी गई थी लेकिन कुछ समय बाद मनप्रीत और उनकी पत्नी के बीच सबकुछ ठीक हो गया।
मनप्रीत सिंह गोनी ने अभी भारत की ओर से सिर्फ 2 ही मैच खेले थे तभी उनकी मां ने प्रॉपर्टी हड़पने और जान से मार देने के प्रयास करने का केस कर दिया। घरेलू झगड़े में पड़ने के बाद मनप्रीत सिंह अपने करियर में आगे नहीं बढ़ सके। मनप्रीत इस समय 35 साल के हो चुके हैं, ऐसे में उनके लिए क्रिकेट जगत में वापसी के रास्ते लगभग बंद हो चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here