10

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का चौथा मैच 2 सितंबर से लंदन के द ओवल में खेला जाएगा। भारत और इंग्लैंड की टीमें फिलहाल सीरीज में एक-एक की बराबरी पर हैं। टीम इंडिया की कोशिश होगी कि द ओवल (The Oval) में जीत दर्ज करके सीरीज में दोबारा बढ़त बनाई जाए लेकिन इसके लिए कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को अपने सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाड़ियों के साथ मैदान में उतरना होगा।

टीम इंडिया के तीन खिलाड़ियों को फिलहाल अंतिम 11 से बाहर किया जा सकता है। इसमें सबसे बड़ा नाम उपकप्तान अजिंक्य रहाणे का है, जो आउट ऑफ फॉर्म चल रहे है। हनुमा विहारी को रहाणे की जगह मौका मिल सकता है। वहीं रविंद्र जडेजा की जगह ऑफ स्पिनर आर अश्विन की टीम में वापसी हो सकती है। जडेजा के लिए सीरीज फिलहाल कुछ खास नहीं गई है। इसके आलावा ईशांत शर्मा की जगह शार्दुल ठाकुर को मौका मिल सकता है।

टेस्ट सीरीज में अब तक अश्विन को मौका नहीं मिला है। भारत के नंबर एक गेंदबाज को टीम न रखना विराट को पिछले मैच में भारी भी पड़ा है क्योंकि वो अच्छी गेंदबाजी के साथ अच्छी बल्लेबाजी भी कर सकते हैं। अब तक टीम चार तेज गेंदबाजों और रविंद्र जडेजा के कॉम्बिनेशन खेल रही थी। मैनेजमेंट ने जडेजा की बल्लेबाजी को ज्यादा तवज्जो दी थी। अश्विन को अंतिम 11 में जगह नहीं मिली जबकि वो 12 में शामिल थे। विराट का कहना था कि पिच कंडीशन की वजह से उन्हें मौका नहीं मिला।

अश्विन का प्रदर्शन
इंग्लैंड की कंडीशन में हमेशा ही तेज और स्विंग गेंदबाज के लिए फायदेमंद रही है. स्पिनर्स को हमेशा से यहां पर चुनौती का सामना करना पड़ा है. अश्विन के रिकॉर्ड्स को देखें, तो इंग्लैंड में उनका हाल कुछ ज्यादा बुरा नहीं है. उन्होंने इंग्लैंड में 7 टेस्ट मैच खेले हैं और 28.11 की औसत से 18 विकेट लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here