7

कहा गया है जब समय खराब होता है तो मुसीबतें भी एक साथ आती है। यूपी के बरेली से एक ऐसा ही हादसा सामने आया है। जहां नशीले पदार्थ की तस्करी का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस के हाथ कुछ ऐसे सबूत हाथ लगे हैं। जो बड़े-बड़े तस्करों तक बड़ी आसानी से पहुंचा सकते हैं।

सांड सामने आने से अनियंत्रित हुई स्कॉर्पियो
मामला यह है कि बरेली से दिल्ली लखनऊ नेशनल हाईवे पर सुबह-सुबह हेरोइन तस्करों की गई। स्कॉर्पियो तेजी रफ्तार से चल रही थी इसी बीच अचानक रोड के बीचो बीच एक सांड आ गया जिस को बचाने के चक्कर में स्कॉर्पियो अनियंत्रित हो गई। तस्करों की नई स्कार्पियो किसी फिल्मी एक्शन सीन की तरह उछली और रोड के दूसरी तरफ बरेली से आ रही सैंटरो कार से जा टकराई।

बताया जा रहा है कि इस हादसे में सेंट्रो कार में सवार दो महिलाओं सहित चार लोग घायल हो गए हैं घटना के बाद स्कॉर्पियो सवार युवक मौके से फरार हो गए सूचना पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार ने सभी घायलों को इलाज के लिए बरेली के हॉस्पिटल में एडमिट कराने के लिए भेजा। पुलिस जब एक्सीडेंट के गुनाहगारो को पकड़ने की तलाश में जब स्कॉर्पियो गाड़ी की तलाशी ली तो उन्होंने देखा कि स्कॉर्पियो की स्टेफनी उठी हुई है।

स्टेफनी को जब खोला गया तो पुलिस की आंखें चार हो गई उसमें से 4 पैकेट में 4 किलो 100 ग्राम वजन का नशीला पदार्थ मिला। जांच के लिए भेजे गए नशीले पदार्थ को पता चलता है कि वह हीरोइन है। बताया गया है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत लगभग 5 करोड है।

स्कॉर्पियो से बरामद हुए आधार कार्ड के आधार पर अंतरराष्ट्रीय हेरोइन तस्कर बबलू नाजिश स्कॉर्पियो के मालिक राजन को गिरफ्तार किया है। एसपी राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ एचडी पी एप्स में एफआईआर लिख ली है। फिलहाल कुछ आरोपी पुलिस की गिरफ्त से फरार हैं। उनकी जांच जारी है प्रभारी निरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि उक्त मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है। बाकी आरोपियों का पुलिस जल्द ही पता लगा लेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here